Chat GPT क्या है और काम कैसे करता है?

Chat GPT क्या है और काम कैसे करता है?

वर्तमान समय में लोगों को चैट जीपीटी के बारे में काफी कुछ सुनने को मिल रहा है। वही चैट जीपीटी के बारे अधिकांश व्यक्ति जानने के लिए बेताब हो रहे है के “Chat GPT Kya Hai“। वही ऐसा सुनने में आ रहा है कि चैट जीपीटी एआई गूगल को भी काफी टक्कर देती नजर आ सकती है। जानकारी के मुताबिक, चैट जीपीटी एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां पर आप कुछ भी सवाल पूछते है, तो उसका जवाब आपको लिख कर दिया जाता है।

हालांकि, अभी इसपर और भी कार्य किया जा रहा है और काफी जल्दी इसे बड़े स्तर पर लोगों के बीच पहुंचाने का कार्य किया जाएगा। दरअसल, अभी तक जिन्होंने भी सोशल मीडिया यूजर के तौर पर इसका उपयोग किया है, उन्होंने काफी पॉजिटिव साइन दिया है।

तो चलिए अब बिना समय गंवाए ChatGPT क्या है और कैसे काम करता है से जुड़ी हर महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त कर लेते है। यहाँ से पढ़िए ChatGPT Plus के बारे में।

चैट जीपीटी क्या है – What is ChatGPT in Hindi

चैट जीपीटी एक भाषा मॉडल है जो बड़ी मात्रा में टेक्स्ट डेटासेट पर प्रशिक्षित किया गया है, जिससे यह टेक्स्ट इनपुट को हमारी तरह के प्रतिक्रियाओं को उत्पन्न कर सकता है। यह GPT-3 मॉडल पर आधारित है और इससे मॉडल के साथ बातचीत करने की संभवता होती है। यह चैटबॉट, प्रश्न उत्तर देने और भाषा अनुवाद जैसी कामों के लिए उपयोग की जा सकती है।

सरल भासा में कहा जाये तो, चैट जीपीटी एआई गूगल की तरह ही एक सर्च इंजन है, जिसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के माध्यम से निर्माण किया गया है। दरअसल, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक प्रकार का चैट बोट है। साथ ही बता दूं कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के कारण ही यह यह आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर कार्य करता है। जानकारी के मुताबिक, आप इससे अपनी सरल भाषा में कोई भी प्रश्न पूछ सकते हैं।

जी हां यहां पर आपको अपने किसी भी तरह के सवाल का जवाब प्राप्त हो सकता है। हालांकि, इसे भी एक प्रकार का सच इंजन समझा जा सकता है। दरअसल, अभी तक इसे विश्व भर में हर भाषाओं में लॉन्च नहीं किया गया है। बल्कि फिलहाल इसे अंग्रेजी भाषा में इंटरनेशन पैमाने पर उपलब्ध कराया गया है।

वही ऐसी खबर आ रही है कि बहुत जल्द ही इसे हर भाषाओं में उपलब्ध कराया जाएगा। इसके साथ ही सरल शब्दों में यदि हम Chat GPT के बारे में समझे, तो इससे हम जो भी प्रश्न पूछते है, उसका जवाब ये लिखकर विस्तार से हमें समझाता है। यही कारण है कि अधिकांश व्यक्ति इसके हर भाषाओं में उपलब्ध होने का इंतेजार कर रहे हैं।

Name ChatGPT
Developer OpenAI
Type Chatbot
License Proprietary
Release Date 30th November, 2022
CEO Sam Altman
Website chat.openai.com

 

चैट जीपीटी फुल फॉर्म

ChatGPT का फुल फॉर्म है Chat Generative Pre-Trained Transformer (चैट जेनरेटिव प्रिंटेड ट्रांसफार्मर)।

दरअसल, वर्ष 2022 में 30 नवंबर को लॉन्च किया गया था। वही इसकी ऑफिशियल वेबसाइट chat.openai.com है। वही अभी तक दो मिलियन तक इसकी यूजर की संख्या बढ़ चुकी है।

चैट जीपीटी का मालिक कौन है?

चैट जीपीटी किसी व्यक्ति या संगठन की संपत्ति नहीं है। यह एक बड़ी भाषा मॉडल है जो ओपनएआई द्वारा विकसित किया गया है, जो एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रिसर्च लैब है। यह लैब एक फॉर-प्रोफिट कॉर्पोरेशन ओपनएआई एलपी और इसकी माता कंपनी, गैर-लाभकारी ओपनएआई इंक के बच्चे की तरह काम करता है।

Chat GPT किसने बनाया?

Chat GPT को OpenAI ने बनाया है। OpenAI एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कंपनी है जो एक बड़े स्केल पर मशीन लर्निंग पर काम करती है। Chat GPT का पूरा नाम Chat Generative Pre-Trained Transformer है। यह 30 नवंबर, 2022 को लॉन्च किया गया था और इसकी ऑफिशियल वेबसाइट chat.openai.com है।

यहां पर आप जब भी अपना किसी भी तरह का सवाल सर्च करते है, तो Chat GPT आपको उस प्रश्न का जवाब जल्द ही दिखा देता है। दरअसल, सरल शब्दों में समझा जाए तो Chat GPT के माध्यम से आपको यूट्यूब वीडियो स्क्रिप्ट, निबंध, बायोग्राफी, कवर लेटर और छुट्टी की एप्लीकेशन इत्यादि लिख करके साझा किया जाता है।

Chat GPT को कब लांच किया गया?

Chat GPT को 30 नवंबर 2022 को लांच किया गया था।

चैट जीपीटी किस देश का है?

Chat GPT संयुक्त राज्य अमेरिका में स्थित एक शोध संगठन OpenAI द्वारा बनाया गया एक AI चैटबॉट है। OpenAI की स्थापना 2015 में Elon Musk, Greg Brockman, Ilya Sutskever, Wojciech Zaremba, और Sam Altman द्वारा की गई थी, जिसमें मस्क फरवरी 2018 में बोर्ड से हट गए थे ताकि हितों के किसी भी संभावित टकराव से बचा जा सके। मॉडल के प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए मानव प्रशिक्षकों का उपयोग करने वाले दोनों दृष्टिकोणों के साथ पर्यवेक्षित शिक्षण और सुदृढीकरण सीखने का उपयोग करके GPT-3.5 के शीर्ष पर ChatGPT को ठीक किया गया था।

चैटजीपीटी एक भाषा मॉडल है, इसलिए यह देशों के एक विशिष्ट समूह तक सीमित नहीं है। हालाँकि, OpenAI ने बिना स्पष्टीकरण के चीन और रूस सहित कुछ देशों में लोगों को बाहर कर दिया है। फिर भी, उपयोगकर्ता चैटजीपीटी को सामान्य रूप से एक्सेस करने के लिए समर्थित देशों से एक वीपीएन और एक फोन नंबर का उपयोग कर सकते हैं।

अंत में, चैटजीपीटी किसी विशिष्ट देश से संबंधित नहीं है, लेकिन इसे संयुक्त राज्य अमेरिका में स्थित एक शोध संगठन ओपनएआई द्वारा विकसित किया गया था।

चैट जीपीटी कैसे काम करता है?

चैट जीपीटी OpenAI द्वारा विकसित एक AI भाषा मॉडल है जो उपयोगकर्ताओं के संकेतों के आधार पर मानव जैसा पाठ उत्पन्न कर सकता है। सूत्रों के अनुसार, ChatGPT मूल GPT-3 मॉडल पर आधारित है, लेकिन मॉडल के मिसलिग्न्मेंट मुद्दों को कम करने के विशिष्ट लक्ष्य के साथ सीखने की प्रक्रिया को निर्देशित करने के लिए मानव प्रतिक्रिया का उपयोग करके इसे और प्रशिक्षित किया गया है।

बातचीत के लिए चैटजीपीटी को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली विशिष्ट तकनीक को रीइन्फोर्समेंट लर्निंग विद ह्यूमन फीडबैक (आरएलएचएफ) कहा जाता है। मॉडल को वांछित व्यवहार की दिशा में निर्देशित करने के लिए RLHF मानव प्रदर्शनों और वरीयता तुलनाओं का उपयोग करता है। प्रशिक्षण प्रक्रिया के दौरान, ChatGPT को GPT-3.5 से फाइन-ट्यून किया गया था, जो एक भाषा मॉडल है जिसे टेक्स्ट बनाने के लिए प्रशिक्षित किया गया है।

ChatGPT किसी दिए गए पाठ में अगले शब्द की भविष्यवाणी करके काम करता है, जो कि प्रशिक्षण प्रक्रिया के दौरान बड़े पैमाने पर डेटा से सीखे गए पैटर्न के आधार पर होता है। इंटरनेट से डेटा का उपभोग करने के बाद, चैटजीपीटी मूल डेटा को छोड़ देता है और डेटा से सीखे गए तंत्रिका कनेक्शन या पैटर्न को संग्रहीत करता है। ये कनेक्शन या पैटर्न साक्ष्य के टुकड़ों की तरह हैं जो चैटजीपीटी विश्लेषण करता है जब यह किसी भी संकेत का जवाब देने का प्रयास करता है।

ChatGPT मानव जैसी भाषा उत्पन्न करने के लिए एक विशाल तंत्रिका नेटवर्क का उपयोग करता है जिसके माध्यम से वह संचार करता है। यह उपयोगकर्ता के लिए निबंध, ब्लॉग आदि लिख सकता है।

दरअसल, ChatGPT एक अत्याधुनिक नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग (NLP) मॉडल है जो संवाद के लिए ऑप्टिमाइज़ करने के लिए डीप लर्निंग और RLHF का उपयोग करता है। यह अपनी प्रशिक्षण प्रक्रिया के दौरान सीखे गए पैटर्न के आधार पर अगले शब्द की भविष्यवाणी करके काम करता है और मानव जैसी भाषा का निर्माण करने के लिए एक विशाल तंत्रिका नेटवर्क का उपयोग करता है।

चैट जीपीटी का उपयोग कहां किया जा रहा है?

चैट GPT का उपयोग कई अलग-अलग क्षेत्रों में किया जा रहा है। यह एक AI (Artificial Intelligence) भाषा मॉडल है जो नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग (Natural Language Processing) के उन्नत रूपों में से एक है। इसके उपयोग से बहुत से काम आसान हो जाते हैं जैसे आर्टिकल, ब्लॉग पोस्ट, सोशल मीडिया पोस्ट और वार्तालाप आदि को जेनेरेट करना।

चैट GPT का उपयोग कुछ निम्नलिखित क्षेत्रों में किया जाता है:

कंटेंट क्रिएशन: चैट GPT का उपयोग कंटेंट क्रिएशन के लिए किया जा सकता है। इससे आप उच्च गुणवत्ता वाला और ऑप्टिमाइज्ड कंटेंट प्राप्त कर सकते हैं जो आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को बेहतर बनाने में मदद करता है।

चैटबॉट: चैट GPT का उपयोग चैटबॉट के लिए किया जा सकता है जो कि व्यवसायों को उनके ग्राहकों से बेहतर रूप से इंटरैक्ट करने में मदद करता है।

अनुवाद: चैट GPT का उपयोग अनुवाद के लिए भी किया जाता है। इससे भाषाओं के बीच अनुवाद करना आसान है।

समाचार सारांश: चैट GPT का उपयोग समाचार या विभिन्न वेबसाइटों की खबरों के सारांश तैयार करने के लिए किया जाता है।

अनुरोध-उत्तर सेवा: चैट GPT का उपयोग अनुरोध-उत्तर सेवा के लिए भी किया जाता है। इससे ग्राहकों के प्रश्नों के जवाब दिए जा सकते हैं।

संगठनात्मक काम: चैट GPT का उपयोग संगठनात्मक काम जैसे कि टैस्क और कैलेंडर मैनेजमेंट, नोट तैयार करने और एवें मीटिंग स्केड्यूल करने के लिए भी किया जाता है।

चैटबॉट और चैट जीपीटी में क्या अंतर है?

चैटबॉट और चाट जीपीटी दोनों ही कन्वर्सेशन-बेस्ड टेक्नोलॉजीज के जनरल नाम हैं, लेकिन इन दोनों के बीच कुछ इम्पोर्टेन्ट डिफरेंसेस होते हैं।

ChatBot

चैटबॉट एक कंप्यूटर प्रोग्राम होता है जो बातचीत आधारित इंटरफेस के जरिए यूजर्स से इंटरैक्ट करता है। ये अक्सर प्री-डिफ़ाइंड रूल्स और रेस्पॉन्स के साथ प्रोग्राम होती हैं। ज्यादातार चैटबॉट अपेक्षाकृत सरल होते हैं और सीमित परिदृश्य में काम करते हैं। इनका मुख्य उद्देश्य उपयोगकर्ता को विशिष्ट जानकारी या कार्य पूरा करने में मदद करना होता है।

 

Chat GPT

चैट जीपीटी (जनरेटिव प्री-ट्रेन्ड ट्रांसफॉर्मर), जैसे की ओपनएआई की जीपीटी-3, एक एडवांस्ड एआई मॉडल है जो नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग और जेनरेशन में काम करती है। ये मॉडल लार्ज-स्केल डेटासेट से सिखती है और कॉम्प्लेक्स लैंग्वेज पैटर्न को समझने में सक्षम होती है। चैट जीपीटी, चैटबॉट के तुलना में ज्यादा फ्लेक्सिबल और इंटेलिजेंट होती है क्योंकि ये कॉन्टेक्स्ट बेस्ड और यूनीक रिस्पॉन्स जनरेट कर सकती है।

चैटबॉट निश्चित नियम और सीमित प्रतिक्रिया पर आधारित होती हैं, जबकी चैट जीपीटी मॉडल अनुकूली और उत्पादक होते हैं। चैट जीपीटी मॉडल आम तौर पर चैटबॉट्स से ज्यादा प्राकृतिक और मानव जैसी बातचीत करने में समर्थ होते हैं।

Chat GPT क्या कर सकता है?

आपने हमारे अभी तक के इस Chat GPT के पोस्ट में यह क्या है और कैसे कार्य करता है इसके बारे में जान ही चुके होंगे। लेकिन चलिए अब बिना समय गंवाए इसके कुछ फीचर्स के बारे में भी जान लेते हैं।

  • इसकी खासियत यह है कि आप इसका उपयोग कंटेंट लिखने के लिए भी कर सकते हैं।
  • इसके साथ ही आपके द्वारा पूछे गए प्रश्नों को यदि आप पूछते है, तो उसका जवाब आपको रियल टाइम में ही प्रदान किया जाता है।
  • Chat GPT की मदद से निबंध, बायोग्राफी, एप्लीकेशन इत्यादि चीजे लिखकर रेडी किए जा सकते हैं।
  • यहां पर उपलब्ध हर सुविधा का लाभ मुफ्त में उठाया जा सकता है।

Chat GPT कैसे Download करे?

ChatGPT को Download नहीं किया जा सकता है क्योंकि यह एक ऑनलाइन भाषा मॉडल है और इसे OpenAI द्वार उत्थान किया गया है। आप किसी भी वेब ब्राउजर के माध्यम से ChatGPT से बात कर सकते हैं, इसके लिए आपको किसी तरह का कोई सॉफ्टवेयर या एप्लीकेशन डाउनलोड करने की जरूरत नहीं है।

ChatGPT को अपने वेब ब्राउजर के अंदर ओपन करने के लिए आप OpenAI की वेबसाइट पर जाएं, फिर ChatGPT के किसी भी थर्ड पार्टी इम्प्लीमेंटेशन को भी इस्तेमाल कर सकते हैं। OpenAI की वेबसाइट पर जाने के लिए आप “https://www.openai.com” यूआरएल को अपने ब्राउजर में ओपन करें, और फिर ChatGPT से अपनी क्वेरीज पूछ सकते हैं।

Chat GPT कैसे Use करे? 

क्या आप भी Chat GPT का इस्तेमाल करना चाहते है, यदि हां तो उसके लिए आपको Chat GPT Kaise Use Kare इससे जुड़ी जानकारी प्राप्त होनी जरूरी है। तो चलिए अब बिना समय गंवाए Chat GPT यूज करने के लिए क्या करना चाहिए इसकी प्रक्रिया के बारे में जान लेते है। जो कि इस प्रकार है..।

  1. सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में ब्राउजर को खोलने की आवश्यकता होगी।
  2. उसके बाद आपको Chat.openai.com वेबसाइट को खोलने की आवश्यकता होगी।
  3. फिर आपको इसके Home Page पर Sign Up और Log in का दो विकल्प प्राप्त होगा। आपको इसमें Sign Up के विकल्प पर क्लिक करने की जरूरत होगी।
  4. उसके बाद आपको जीमेल का उपयोग करके अपना अकाउंट बना लेना है। इसके लिए कंटिन्यू वाले विकल्प पर क्लिक करना है।
  5. अब आपको जीमेल के माध्यम से अकाउंट बनाने के लिए ऊपर में नाम पर क्लिक करना है।
  6. फिर कुछ इंफॉर्मेशन दर्ज करके आपको कंटिन्यू का विकल्प प्राप्त होगा, जिसपर आपको क्लिक करना है।
  7. इस तरह आपका अकाउंट बनते ही आप इसका उपयोग कर सकते हैं।

 

क्या Chat GPT, Google को खत्म कर देगी (Will Chat GPT Kill Google)

ChatGPT OpanAI द्वारा विकसित एक शक्तिशाली भाषा मॉडल है, लेकिन इसे Google को बदलने या “खत्म” के लिए डिज़ाइन नहीं किया गया है। दोनों प्रौद्योगिकियां अलग-अलग उद्देश्यों की पूर्ति करती हैं और उनके अद्वितीय फायदे हैं।

Google का मुख्य उद्देश्य Internet पर जानकारी खोजना है। इसमें अनुक्रमित वेब पेजों का एक व्यापक डेटाबेस है और वेब पर खोज करते समय प्रासंगिक परिणाम देने के लिए जटिल एल्गोरिदम का उपयोग करता है। दूसरी ओर, Chat GPT प्राकृतिक भाषा पाठ का एक मॉडल है जिसे इसे समझने और प्रतिक्रिया देने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। यह मुख्य रूप से पाठ निर्माण, अनुवाद और वार्तालाप के लिए उपयोग किया जाता है।

जबकि Chat GPT कुछ ऐसे ही सवालों के जवाब देने में सक्षम हो सकता है जो Google कर सकता है, यह खोज इंजन को बदलने के लिए नहीं है। Google वेब खोज के लिए अनुकूलित है और इसके खोज परिणाम ChatGPT से बेहतर हैं। अपने उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफेस और कई सुविधाओं के अलावा, Google ध्वनि खोज, स्वत: पूर्ण और वर्तनी-जांच भी प्रदान करता है ताकि उपयोगकर्ता आसानी से जानकारी प्राप्त कर सकें।

Chat GPT और Google दोनों का उपयोग विभिन्न उद्देश्यों और उद्योगों के लिए किया जाता है। सामान्य सूचना खोजों के लिए Google का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है, जबकि ChatGPT का उपयोग चैटबॉट्स और आभासी सहायकों के लिए किया जाता है।

चैट जीपीटी गूगल से अलग क्यों है?

चैट जीपीटी और गूगल अलग-अलग टेक्नोलॉजीज और कंपनियों से आते हैं। चैट जीपीटी, जैसे की ओपनएआई की जीपीटी-3, एक उन्नत एआई लैंग्वेज मॉडल है, जबकी गूगल एक सर्च इंजन है जो वेब कंटेंट को इंडेक्स और रैंक करने में स्पेशलाइज है।

ChatGPT

  • ओपनएआई द्वारा विकसित की गई है।
  • जनरेटिव प्री-ट्रेन्ड ट्रांसफॉर्मर (जीपीटी) टेक्नोलॉजी पर आधारित होती है।
  • बातचीत और प्राकृतिक भाषा की समझ में काम करती है।
  • टेक्स्ट-बेस्ड कन्वर्सेशन के लिए रिस्पॉन्सिव और फ्लेक्सिबल रिस्पॉन्स जनरेट करती है।

Google

  • गूगल इंक. द्वारा विकसित की गई है।
  • एक सर्च इंजन है जो वेब पेज और कंटेंट को इंडेक्स और रैंक करता है।
  • उपयोगकर्ताओं को प्रासंगिक खोज परिणाम प्रदान करता है।
  • सूचना का उपयोग, खोज, और वेब आधारित सेवाओं में विशेषज्ञ हैं।

डोनो टेक्नोलॉजीज अपने संबंधित डोमेन में शक्तिशाली हैं, लेकिन इनका मुख्य उद्देश्य और कार्यक्षमता अलग है। चैट जीपीटी, नेचुरल लैंग्वेज कन्वर्सेशन और टेक्स्ट जनरेशन पर फोकस करती है, जबकी गूगल सर्च और इंफॉर्मेशन रिट्रीवल पर फोकस करता है।

चैट जीपीटी 4 क्या है?

ChatGPT 4 एक एआई भाषा मॉडल है जिसे ओपेनएआई ने विकसित किया है, जो ChatGPT 3 की सफलता पर आधारित है। यह मानव-जैसे प्रतिक्रियाएं तैयार करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जो इसे वर्चुअल सहायक, सामग्री निर्माण, ग्राहक सहायता और अन्य कई अनुप्रयोगों के लिए एक अमूल्य साधन बनाता है।

ChatGPT 4 गहरी सीख और व्यापक प्रशिक्षण डेटा का लाभ उठाते हुए कोण्टेक्स्चूअल और संयोजन को समझने और संबंधित और संगठित प्रतिक्रियाएं प्रस्तुत करने की क्षमता प्राप्त करने में सहायता करता है। मॉडल ने गुणवत्ता सुधार के लिए कई महत्वपूर्ण विशेषताओं को प्राप्त किया है। इसमें बेहतर कंटेक्स्चूअल समझदारी है, जिससे यह नाजूक प्रांप्त को समझता है और और सही और जानकारीपूर्ण प्रतिक्रियाएं प्रदान करता है।

मॉडल में सुधारित संयोजन भी है, जिससे अर्थहीन या अप्रासंगिक जवाबों की संख्या कम हो जाती है। इसके अलावा, ChatGPT 4 कई भाषाओं का समर्थन करता है, जिससे उपयोगकर्ताओं को अपनी मातृभाषा में मॉडल के साथ संवाद करने की सुविधा मिलती है।

चैट जीपीटी 3 की तुलना में चैट जीपीटी 4 कितना पावरफुल है?

जब बात शक्ति की होती है, तो ChatGPT 4 ChatGPT 3 को बड़े पैमाने पर पीछे छोड़ता है। इसे एक बहुत बड़े डेटासेट पर प्रशिक्षित किया गया है, जिससे यह भाषा और संदर्भ की गहरी समझ प्राप्त करता है। अपनी सुधारी योग्यताओं के साथ, ChatGPT 4 संवेदनशील और संदर्भानुसार प्रतिक्रियाएं उत्पन्न करने में श्रेष्ठता प्रदर्शित करता है, जिसके परिणामस्वरूप यह विभिन्न एआई-चालित अनुप्रयोगों के लिए एक अधिक शक्तिशाली साधन बन जाता है।

संक्षेप में, ChatGPT 4 एआई भाषा मॉडल की एक महत्वपूर्ण प्रगति है, जिसमें तार्किक समझ, संयोजन, और बहुभाषी समर्थन की सुविधाएं शामिल हैं। इसकी बढ़ी हुई शक्ति और क्षमताएं इसे व्यापारों और डेवलपर्स के लिए एक महत्वपूर्ण संसाधन बनाती हैं जो अपने एआई-चालित अनुप्रयोगों को बेहतर बनाना चाहते हैं। ChatGPT 4 के साथ, मानव-कंप्यूटर इंटरैक्शन की सीमाएं आगे बढ़ती हैं, जिससे प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण और कृत्रिम बुद्धिमत्ता में रोमांचकारी प्रगति की संभावनाएं खुलती हैं।

Source : https://hindime.net/chat-gpt-kya-hai-hindi/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related post

Top 10 Best Financial Advice For Young Adults

Top 10 Best Financial Advice…

With this crisis throughout the world, we are here with financial…
Top 10 Best Tips for Influencer Marketing In 2024

Top 10 Best Tips for…

As brands seek to engage their audiences authentically and impactfully, the…
Top 10 Best Tips for Email Marketing In 2024

Top 10 Best Tips for…

Best Tips for Email Marketing in 2024 are important if you…